Update 01 September 2021

*अमन की पहल*
01-09-2021 


अत्यंत आवश्यक कृपया औरों तक पहुंचाएं 
नगर निगम फरीदाबाद और  वन विभाग हरियाणा द्वारा जो तोड़फोड़ की कार्यवाही हो रही है उससे संबंधित कुछ प्रमुख बातें ध्यान रखें:–

(1). प्रत्येक भूमि से जो पर जो तोड़फोड़ हो रही है उसका अलग-अलग कारण दिया है।  

(2)  पंजाब भूमि संरक्षण अधिनियम (पीएलपीए), 1900 की धारा 4 और 5 के तहत अधिसूचित भूमि पर ग़ैरवानिकी कार्य नहीं हो सकता। इस कारण से कहीं पर जंगल की जमीन , कहीं पर “फरीदाबाद ड्राफ्ट डेवलपमेंट प्लान फॉर कंट्रोलड एरिया आउटसाइड म्युनिसिपल कॉरपोरेशन फरीदाबाद 2031” में विभिन्न कामों के लिए रखी गई जमीन,  अरावली प्लांटेशन के लिए रखी गई जमीन आदि के नाम से लोगो को उजाड़ा जा रहा है।

(3) सुप्रीम कोर्ट के आदेश को चुनोती देने के लिए, स्टे के लिए सुप्रीम कोर्ट ही जा सकते हैं। जैसे फार्म हाउस वाले गए हैं।

(4) हटाने का हर नोटिस, हर स्थान के लिए अलग-अलग कारण वाला है। इसलिए अलग-अलग कारणों और तर्कों के साथ ही कोर्ट में जाया जा सकता है। हर बस्ती का अलग कारण होगा।

(5)  सुप्रीम कोर्ट जब फार्म हाउसों को समय दे सकता है और हरियाणा सरकार भी सर्वोच्च न्यायालय में कह रही है कि फार्म हाउसों के कागजात देखने में समय लगेगा। तो फिर हरियाणा सरकार जहां लोग रहते हैं उनके लिए भी समय मांग सकती है।

(6)  हमे नगर निगम और वन विभाग को मिलकर यह सब कहना चाहिए।

(7) हमने महालष्मी डेरा औऱ जमाई कालोनी से पत्र भिजवाए है। वे साथ मे भेज रहे हैं। इसी तरह हर जगह के अलग-अलग कारणों और तर्कों के साथ पत्र देने होंगे और सुप्रीम कोर्ट भी जा सकते हैं।

(8) हरियाणा में जिनको भी कहीं से उजाड़ा जाता है। उन पर अभी हरियाणा सरकार  की  2003 की पुनर्वास नीति लागू होती है । जिनके पास 2003 से पहले का वोटर कार्ड है। वह पुनर्वास के हकदार होते हैं। पुनर्वास नीति भी आपको हम जल्दी ही भेज देंगे। इस पुनर्वास नीति में आज की परिस्थिति के लेकर बदलाव की जरूरत है।

(9) प्रधानमंत्री की “जँहा झुग्गी वन्ही मकान” योजना का पूरी तरह उलंघन हो रहा है। इस पर भी सरकार के सामने प्रश्न उठाना चाहिए।

(10) हर बस्ती का एक लिस्टिंग कर लेना चाहिए _(जिसका फार्म हम अटैच कर रहे हैं)_ कागजात इकट्ठे करने की जरूरत नहीं बल्कि इस तरह की लिस्टिंग करके यह सुनिश्चित कर लिया जाए कि लोगों के पास कागजात हैं।

हमारी कोशिश है कि हम सही व पूरी जानकारी सब दूर फैलाएं। 
आप सब से निवेदन है कि कृपया इस खबर को जहां भी कोई बस्ती टूटने की संभावना है वहां पर भेजिए। 
इस संदर्भ में किसी भी तरह की जानकारी बातचीत के लिए हम हमेशा उपलब्ध हैं।


सहयोग में 
विमल भाई व साथी

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s